RSS

Tag Archives: pancham

Gulzar kii…Chhoti Si Kahani Si

शाख़ों पे पत्ते थे
पत्तों में बूँदे थीं
बूँदों में पानी था
पानी में आँसू था ~आऽ ~आऽ

65 seconds of pure bliss as the prelude, Filling up the musical valley within the heart with the raindrops in the form of accordion, violins, flute, xylophone & madal sounds … Totally overwhelming on every listen.

19510272_10203590087628917_8992605511092533784_n Remembering a song that originally was not part of the script, but was destined to be conceived & produced, and later to be cherished for ever.

19554064_1474115552631218_881655937835696308_nA complete magic show within a song, where Pancham chipped-in, with not one but Two Primary Accordions to come up with a scintillating effect. The accordion vibes here create beautiful ripples in the heart and gels so well with the flow of the Rain & the TRain … The magic makes me to dream to board the train immediately.

छोटी सी कहानी से, बारिशों की पानी से
सारी वादी भर गयी
न जाने क्यों, दिल भर गया
न जाने क्यों आँख भर गयी

post by Pavan Jha
Read the rest of this entry »

 
Leave a comment

Posted by on August 2, 2017 in Articles

 

Tags: , , , , ,

Image

pancham with his mother

pancham with his mother

 
Leave a comment

Posted by on April 3, 2013 in pictures

 

Tags: , , ,

शिवरंजिनी की ऐसी की तैसी !

Image

rd burman

जी नहीं,ये मैं नहीं कह रहा बल्कि ये तो एक पुराना किस्सा है किशोर कुमार का और उसके पीछे छिपे एक खूबसूरत गीत के बनने का.राग शिवरंजिनी  और किशोर कैसे मिलकर एक अद्भुत गीत का निर्माण करते हैं इसकी मिसाल.

किसतरह पहले लता के गाने के बाद किशोर ने ये गीत गाया .जबकि राग की समझ ना के बराबर रखने वाले किशोर पहले इस गाने को गाने से मना कर रहे थे !

ऐसा ही दूसरा गीत फिल्म ‘झुमरू‘ का जिसे पहले गाया था किशोर के बड़े भाई दादा मोनी ने (यानी अशोक कुमार ). गाना ना याद आरहा हो तो मैं बताए देता हूँ . गाना था फिल्म जीवन नैय्या का कोई हमदम ना रहा  
#raag_shivranjini_kishore#pancham#p1j

 
Leave a comment

Posted by on March 26, 2013 in Articles, info and facts

 

Tags: , , , , , , , , , , , , ,