RSS

BHOR BHAYI BAIRAV GHUN GAAO -RAAG MALA

01 Jan
here is one song  that brings, not one or two, but 11 different raags to you in about 7 minutes!!
This article is written by :Gurbakshish Singh Bagga

This article is written by :Gurbakshish Singh Bagga

The singer is one Haimanti Sukla [of the Chashm-e-Baddoor fame, and a fairly well known bong in the Hindustani circles].

This post was written under the influence – of the intoxicating rendition of a raagmala from this

singer I did not fancy too much [primarily because of the paucity of my exposure] – but I did get drunk on this one

And this comes from a 1982 movie [Sweekar Kiya Maine], with a post-her-moment Usha Khanna at the helm..!

The raagas are: भैरव, गांधारी, मालकौंस, बागेश्वरी, मुल्तानी, हमीर, सोरठ, जैजैवंती, दुर्गा, बहार and बसंत.

The following ramble is being brought to you unedited – जैसे आया बस वैसे ही उतार दिया कागज़ पर. May come across as a bit unintelligible in parts – but I get that way sometimes 🙂

इतनी चतुराई की चीज़ है कि ‘राग-भाव’ बनाना, और वो भी in less than a minute each, और ऊपर से पूरे ग्यारह रागों की बात कर रहे हैं… आनंद..!!

मुझ अनपढ़ को जैसा समझ आया उसे ‘report’ कर रहा हूँ. गुनिजन इसमें corrections और ज्ञान-वर्धन करें तो हम सभी शायद कुछ सीखें..? 🙂

Let us get familiar with the lyric first:

भोर भई, भैरव गुन गाओ ,
गंधारी संग हैं, स स रे नि स रे ग म ,raag maala
मालकौंस गुनियन ने बखाना ,
अति सुंदर बागेश्वरी जानो,
प्रभु नवा में, गा मुल्तानी,
हमीर संग भेंटा भक्ति की,
प्रभु भक्ति मिल, सोरठ जानी,
जैजैवंती प्रिय रागिनी ….
जय जय जय दुर्गे महारानी,
आई बहार, सकल मन जानी,
छाई बसंत, ऋतु मन भानी.

The time line as I could decipher:

00:00 तानपुरा

00:07 aakaar of BHAIRAV followed by the नामकरण+elaboration – all done impressively in the next 55 seconds!

01:02 ==> यहाँ गच्चा है कुछ – मेरे लिए. वो गा रही है: “गांधारी संग हैं स-स-रे-नि-स-रे-ग-म” – ये समझा नहीं अपुन भिड़ु 🙂 – did the raag change here for just the next 11 seconds?!

01:13 MALKAUNS is the next course in tonight’s fantabulous मिष्टान-पकवान-भण्डार dinner for your soul 🙂 A slow and short सरगम-तान starting at 01:29 is… adequate. अभी तो लोहा और गर्म होना है! Total duration of Malkauns: 40 seconds, helped by the Sarangi and Ms Sukla’s decent taan!

01:53 BAGESHREE is sort-of whisked in from the neighborhood of Malkauns! चुरा लाए, भगा लाए… But she doesn’t want to be seen much 🙂 13 seconds! HOW DO YOU BRING A RAAG LIKE BAGESHREE IN FOR JUST 13 SECONDS? hmm!

02:06 अब आई MULTANI की बारी: nice entry, lilting lady from Sindh-Multan 🙂 She seduces you in a mere 37 seconds.

02:43 HAMIR परिवार की ठंडक में आ जाएं..? जैसे एक बड़े से मंदिर का शीतल फ़र्श..! भजन-कीर्तन का समय हो गया न..?!! परन्तु केवल 24 seconds का साथ रहेगा.

03:17 SOURATH is the melody for tonight’s prayers… आमीन..! 16 seconds में तृप्ति [संतूर के साथ]

03:33 JAIJAIWANTII को ‘रागिनी’ बोला..?!! अबे..! लेकिन बताया बहुत अच्छे से: in its total duration of exactly 50 seconds, she sings the चलन at 03:50 as follows:
रे-नि-ध-प
ध-म-ग-रे
ग-म-ध-नि-स
नी-ध-प-ध-म-ग-रे
रे-ग-रे-नि-स
बहुत-बढ़िया..! लेकिन अभी मुक़ाम और भी हैं

04:23 DURGA – पधारी माँ..! अगले सिर्फ़ 38 seconds में इन्होंने आपको दया-वरदान भी देना है, और अपनी रीढ़ सीधी रखने को उत्तेजित भी करना है..! बाएँ हाथ का खेल है जी… भवानी है आख़िर 🙂 The taans start at 04:33, and show us a glimpse of Haimanti’s ‘Amonkaarii’ – मतलब ये भी वैसा ही एक मोड़ लेती हैं texture में… gliding into something a little heavier and then gliding back into her usual मन्द्र-सप्तक texture… this happens from 04:38 to 04: 41… the taans finish at 04:50., then 10 seconds of the santoor. बताओ..!!

05:00 BAHAAR तक आते-आते तो Hemanti little to prove… ये तो घर की बात है 🙂 और छू गई न आपको ये गर्भवती पवन..? फिर बादल, फिर पहली बूँदें, और वो ‘सौंधी-मिट्टी’ की खुश्बू..! आनंद..! ये सिलसिला चलेगा 43 seconds तक… बहुत है न..!?! चिंता मति कर भाया यदि ‘दिल अभी भरा नहीं’ 🙂

05:43 BASANT – मस्त-बसंत..! इसको फ़ुल-फ़ुल footage मिलेगी… जमाई-बाबू हैं आखिर पूरा एक मिनट, और ऊपर से तीन सेकेंड की मलाई..! 05:53 से शुरू होकर लय भी बढ़ती है इस दीवाने की..! दो तानें सुनेंगे: पहली 18 second की (05:53 to 06:09) और दूसरी 13 second की (06:17 to 06:27) – दोनों के बीच लय की बढ़ोतरी फिर से… दूसरी तान की अल्पायु किसी भी तरह से पहली तान से रंग में कमी नहीं आने देती [‘लघु है लेकिन क्षीण नहीं है’..!] और सोने-पे-सुहागा ये, कि 06:27 पर वही texture का झूला इतने passion से लिया है, जैसे अकेली आ गईं सखियों से बचकर… न दुनिया का डर, न… 🙂

06:46 पर फिर कन्फूज़न 😦 यहाँ से आखिरी सरगम-तान शुरू होती है… लगता तो यही है कि बात ‘बसंत’ से ही ख़त्म हो रही है… सही या गलत..? खैर, सरगम सुनें:

saareegaamaa

saareegaamaa

स-रे-स-ग-रे-ग
स-रे-स-ग-रे-ग
प-म-ध-प
ग-म-ग-ग-प-म-प
ग-म-ग-नि-ध-नि-स-नि-रे-स
स-रे-स-नि
रे-स-नि-स
स-नि-ध-प
नि-ध-प-म
ध-प-म-ग
म-ग-रे-स
म-ग-म-ध-स
म-ग-म-ध-स
म-ग-म-ध-स
स~~~

There are six tracks in the album – 3 credited to Nida Fazli, 2 to Vitthalbhai Patel, and this one – an then, IMDb tells us that one Shri ‘Manohar Khanna’ is also a lyricist for the movie.Manohar Khanna is usha khanna’s father. He has a good number of songs in the 50s

http://youtu.be/h9uX5CZTo3o

raagmala haimanti sukla usha khanna 1982
Advertisements
 
1 Comment

Posted by on January 1, 2013 in Articles

 

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , ,

One response to “BHOR BHAYI BAIRAV GHUN GAAO -RAAG MALA

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s